November 28, 2021

GDT LIVE

सच का साथी

कांग्रेस खाने नाश्ते का नहीं चुकाती उधार एफ आई आर करने की देती है धमकी

1 min read

जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मौजूदगी में पार्टी के अग्रिम संगठन कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय अधिवेशन में दिए गए भोज का भुगतान अब तक नहीं हुआ है।ढाई साल बाद भी भुगतान नहीं होने पर कैटरिंग संचालक ने आत्महत्या की धमकी दी है। उसने कहा है कि उसकी ओर से उठाए जाने वाले कदम के लिए कांग्रेस के नेता जिम्मेदार होंगे। उधर, कांग्रेस नेताओं ने इसे साजिश करार दिया है। दरअसल, राजस्थान के अजमेर में 14 फरवरी, 2019 को दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन हुआ था। इसमें देशभर के कार्यकर्ता शामिल हुए थे। अधिवेशन का उद्घाटन राहुल गांधी ने किया था । इस मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई सहित कई नेता मौजूद थे।

जाने पूरा मामला

अधिवेशन में शामिल होने वाले प्रतिनिधियों के भोजन और नाश्ते के लिए खंडेलवाल कैटरिंग के संचालक मिलन खंडेलवाल को ठेका दिया गया था। पार्टी ने कैटरिंग के भुगतान की जिम्मेदारी चिकित्सा मंत्री डा. रघु शर्मा को सौंपी थी। खंडेलवाल का आरोप है कि उन्हें 71 लाख रुपये का ठेका दिया गया था। उन्होंने कुल ढाई लाख लोगों के भोजन और नाश्ते का प्रबंध किया था। अधिवेशन के दौरान पदाधिकारियों ने उन्हें 36 लाख रुपये का भुगतान तो कर दिया, लेकिन शेष 35 लाख रुपये अब तक नहीं दिए । मिलन का कहना है कि उन्होंने ब्याज पर रुपये लेकर भोज का प्रबंध किया था। अब बार-बार मांगने पर भी भुगतान नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में वह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, चिकित्सा मंत्री डा. रघु शर्मा और सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई सहित कई नेताओं से मिल चुके हैं, लेकिन किसी ने उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया है। दो दिन पहले देसाई सेवादल की बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली से अजमेर पहुंचे तो मिलन वहां पहुंच गए और हंगामा करने लगे। सेवादल के कार्यकर्ताओं ने धक्के मारकर उन्हें बाहर निकाल दिया। अब मिलन ने दिल्ली जाकर कांग्रेस मुख्यालय में आत्महत्या करने की बात कही है।

कांग्रेस ने बताया बी जे पी की चाल

सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि मैं वीर सावरकर, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा के खिलाफ बोला हूं, इसलिए किसी ने हंगामा करने के लिए एक व्यक्ति को भेज दिया था। यह भाजपा कर साजिश है। इसी बीच, सेवादल के प्रदेशाध्यक्ष हेम सिंह ने कैटरिंग के मालिक मिलन खंडेलवान को हिस्ट्रीशीटर बताते हुए कहा कि उसके खिलाफ अजमेर के कई पुलिस थानों में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं । मिलन को तय रकम का भुगतान कर दिया गया, लेकिन वह ब्लैकमेल कर ज्यादा रुपये लेना चाहता है। अब हम उसके खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराएंगे।

सेवा दल में होते इतने सदस्य तो राहुल बनते प्रधानमंत्री

मिलन तीन दिन तक ढाई लाख लोगों को भोजन और नाश्ता कराने की बात कह रहे हैं, जबकि हेम सिंह का कहना है कि अगर सेवादल में ढाई लाख कार्यकर्ता हो जाएं तो राहुल गांधी प्रधानमंत्री बन जाएंगे। उन्होंने कहा तीन दिन तक करीब 40 हजार लोगों ने भोजन किया था। भोजन में केवल दाल, एक सब्जी, चावल और रोटी परोसी गई थी। नाश्ता भी साधारण था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.