October 16, 2021

GDT LIVE

सच का साथी

हिन्‍दू परिवार आखिर इस इलाके में घर छोड़ने को क्‍यों मजबूर हुए, गेट पर टांगा बिकाऊ है का पोस्‍टर: जाने विस्तार से

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर के कर्नलगंज रेल पटरी इलाके में दस हिन्‍दू परिवारों ने अपना घर छोड़ने की चेतावनी दी है। बताया जा रहा है कि ये परिवार काफी दहशत में हैं। उन पर धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनने या मोहल्‍ला छोड़ देने का दबाव है। पीड़ित परिवारों का कहना है कि अब उनके पास घर छोड़कर चले जाने के अलावा और कोई चारा नहीं है। उनका कहना है कि उन पर जान का खतरा मंडरा रहा है। ये दबंग उन्‍हें डराने के लिए रोज कोई न कोई समस्‍या खड़ी कर देते हैं। एक परिवार ने बताया कि उनकी बेटी के साथ मोहल्‍ले के इन दबंगों ने छेड़छाड़ की थी। शनिवार की पूरी रात परिवार ने खौफ में गुजारी। यहां भी पढ़े:दुधमुंही मासूम से दुष्कर्म ( मासूम की मौत)पुलिस की गाड़ी से कूद के भागे अभियुक्त को पुलिस ने पैर पर मारी गोली

लड़की के साथ छेड़छाड़ का उसके भाई ने विरोध किया तो दबंगों ने घर में घुसकर मारपीट भी की। उन्‍होंने बेटी के साथ जबरन रेप करने की कोशिश की। परिवार ने उसी दिन पुलिस से मामले की शिकायत की थी। पुलिस ने नौ नामजद और तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। इनमें से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार तीन में से दो को पुलिस ने छोड़ दिया। घटना से नाराज लोगों ने अपने घरों के बाहर ‘बिकाऊ है’ का पोस्‍टर लगा दिया है। घरों के बाहर लिख दिया है कि वे यहां से पलायन कर रहे हैं। उनका कहना है कि उन पर धर्म बदलने या मोहल्‍ला छोड़ने का दबाव है। पीड़ितों ने मोहल्ले के आफताब नामक शख्‍स पर धमकी देने का आरोप लगाया है। सूत्र

1 thought on “हिन्‍दू परिवार आखिर इस इलाके में घर छोड़ने को क्‍यों मजबूर हुए, गेट पर टांगा बिकाऊ है का पोस्‍टर: जाने विस्तार से

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.