सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में कृषक इंटर कॉलेज महोली के रिटायर्ड लेक्चरर कमलेश चंद्र मिश्र की शुक्रवार की देर रात धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। देर रात शव महोली में श्मशान घाट स्थित मंदिर के बाहर मिला। बताया जा रहा है कि लेक्चररके गोली भी मारी गई है। हालांकि, मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

ये है पूरा मामला

मामला महोली कस्बे का है। मृतक के बेटे ऋषभ मिश्र की ओर से तहरीर में कहा गया है कि उनके पिता शुक्रवार शाम करीब 7:00 बजे मंदिर के लिए घर से निकले थे। अक्सर रात 10:00 बजे तक घर लौट आते थे। काफी देर रात तक वह वापस नहीं आए तो अनहोनी की आशंका हुई। इसके बाद पिता की खोजबीन शुरू की गई। देर रात उनका शव महोली में श्मशान घाट स्थित मंदिर के बाहर मिला। 

बंद था मंदिर का ताला

बताया जा रहा है कि सेवानिवृत्त लेक्चररने महोली कस्बे के शमशान घाट में एक मंदिर बनवाया था। वह प्रतिदिन इसी मंदिर में पूजा करने के लिए जाते थे। मंदिर के गेट का ताला बंद था। इस वजह से यह प्रतीत हो रहा है कि सेवानिवृत्त लेक्चररपर हमला मंदिर बंद होने के बाद हुआ। हमलावरों ने गले और पेट पर वार किया।

  • अज्ञात के खिलाफ तहरीर

मृतक के पुत्र ऋषभ मिश्र की ओर से दी गई तहरीर में अज्ञात हमलावरों की बात कही गई है। अभी तक रंजिश की कोई बात सामने नहीं आई है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर हमलावरों ने सेवानिवृत्त लेक्चरर की हत्या क्यों की। घटना की सूचना पाकर देर रात एसपी डॉ राजीव दीक्षित, महोली कोतवाल बृजेश मिश्रा पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने रात में ही शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है।

क्या कहती है पुलिस ? 

इंस्पेक्टर महोली बृजेश मिश्र के मुताबिक, सेवानिवृत्त लेक्चरर की हत्या धारदार हथियार से की गई है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। शीघ्र घटना का राजफाश किया जाएगा।

रात में करीब डेढ़ बजे केस पंजीकृत

एसपी सीतापुर डॉ. राजीव दीक्षित ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक महोली ने जानकारी दी है कि कमलेश चन्द्र मिश्रा पुत्र दिवाकर मिश्रा उम्र 68 वर्ष निवासी ग्राम सोनारण टोला थाना महोली जनपद सीतापुर सेवानिवृत अध्यापक थे। प्रतिदिन की भांति गांव के बाहर बने मंदिर में पूजा करने 11 सितंबर देर शाम सात घर से गये थे। वह जब देर रात तक  वापस नहीं आये तो परिवार के लोगों जाकर देखा तो मंदिर के पास गिरे हुये थे। जिनके शरीर पर धारदार चोट के निशान थे। इसके बाद उनको तत्काल अस्पताल ले जाया गया। रास्ते में ही उनकी मृत्यु हो गयी । परिवार के लोगों की तहरीर के आधार पर रात में करीब डेढ़ बजे केस पंजीकृत किया गया है। 

एसपी ने बताया कि सूचना मिलने पर मैंने तत्काल घटनास्थल का निरीक्षण किया। अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी एवं क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में चार टीमों का गठन कर प्रभारी निरीक्षक महोली, इमलिया सुल्तानपुर, पिसांवा एवं प्रभारी स्वाट को शीघ्र ही इस प्रकरण की हकीकत सामने लाने का निर्देश दिया है। 

एसपी ने बताया कि मुकेश शुक्ला पुत्र सुरसर दत्त शुक्ला निवासी शुक्लन टोला महोली मृतक कमलेश मिश्र के तंत्र मंत्र विद्या में सहयोग करता था। वह मृतक से तंत्र मंत्र विद्या की शिक्षा भी ले रहा था। मुकेश शुक्ला के सौतेले भाई प्रवीण शुक्ला को इस बात की आशंका थी कि मुकेश तंत्र मंत्र से उनके या उनके परिवार को कोई क्षति ना कर दे। मृतक के परिवार वालों ने यह बात बताई है इसके आधार पर मुकेश शुक्ला व उसके सौतेले भाई प्रवीण शुक्ला को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *