February 3, 2023

‘मिशन 2024’ पंच प्रण की तरह बीजेपी का ‘पांच प्लान’ रेडी : जानें क्या है तैयारी

1 min read

 6 total views,  2 views today

दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के ‘पंच प्रण’ की तरह बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में मिशन-80 को पूरा करने के लिए पांच प्लान तैयार किए हैं, बीजेपी की कोशिश है कि इस प्लान के जरिए ना यह केवल वोटर्स तक पहुंचेगी बल्कि इस बार यूपी में जीत का एक नया रिकॉर्ड भी बनाएगी।  बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की दो दिन की बैठक दिल्ली में साथ ही ये तय हुआ कि सभी राज्य अपनी कार्यसमिति की बैठक 26 जनवरी तक कर लेंगे, फिर यूपी बीजेपी ने प्रदेश कार्यसमिति की बैठक राजधानी के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में की इसमें राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक के निर्देश पर चर्चा हुई, जबकि सबसे महत्वपूर्ण रहा मिशन-80 को लेकर पार्टी का रोडमैप तय होना।  पार्टी को यह भरोसा है कि अगर यह पांच प्लान कारगर रहे तो बीजेपी ना केवल उत्तर प्रदेश में 80 सीटें जीतने में सफल होगी बल्कि आसपास के राज्यों में भी इसका असर पड़ेगा और बीजेपी की सीटें बढ़ेंगी आइए जानते हैं कि क्या है बीजेपी का पांच प्लान-

1. उत्तर प्रदेश में 14 ऐसी सीटें हैं जो बीजेपी के पास अभी नहीं हैं वहीं आजमगढ़ और रामपुर की सीट बीजेपी ने उपचुनाव में जीती थी लेकिन बीजेपी इसे भी उसी केटिगरी में शामिल कर रही है इसलिए इन 16 सीटों पर पार्टी ने केंद्रीय मंत्रियों के साथ-साथ राज्य सरकार के मंत्रियों के प्रवास का भी कार्यक्रम तय किया है । 

2. देशभर में कुल 72000 बूथ ऐसे हैं जो बीजेपी के लिए कमजोर है यानी बीजेपी इन बूथों पर नहीं जीत पाई थी और उसमें भी एक तिहाई बूथ उत्तर प्रदेश में हैं जिनकी संख्या लगभग 24000 है, इन बूथों को मजबूत करने के लिए अब नए सिरे से बूथ कमेटियों का गठन की तैयारी बीजेपी की है। 

3. 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में अप्रैल-मई महीने में होने वाले स्थानीय निकाय चुनाव और उससे पहले शिक्षक स्नातक की 5 सीटों पर होने वाले एमएलसी चुनाव में शत-प्रतिशत सीटें जीतना भी इस प्लान का एक हिस्सा है। 

4. इसके अलावा केंद्र और राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही गरीब कल्याण और विकास की जो योजनाएं हैं, नए सिरे से आम लोगों के बीच उसका प्रचार प्रसार करना. इसमें खासतौर से राशन वितरण और कानून-व्यवस्था बुलडोजर प्रमुख है। 

5. इस प्लान का एक और महत्वपूर्ण हिस्सा दलित, शोषित और समाज में सबसे पिछड़े और खास तौर से पसमांदा समाज को साथ लेकर चलना भी प्रमुख है। 

वर्चुअल दुनिया पर भी पकड़ बनाने की तैयारी
बीजेपी मिशन 2024 के लिए वर्चुअल वर्ल्ड में यानी सोशल मीडिया पर अपनी तैयारी पुख्ता कर रही है. और आज इसी सिलसिले में लखनऊ में प्रदेश कार्यालय पर डेटा प्रबंधन को लेकर एक वर्कशॉप का आयोजन किया गया, जिसमें बीजेपी के सभी जिला अध्यक्ष जिला प्रभारी उन जिलों के आईटी संयोजक सब शामिल हुए और उन्हें डेटा प्रबंधन के बारे में जानकारी दी गई ,डिजिटल इंडिया के साथ-साथ अब डिजिटल बीजेपी बनाने की ओर पार्टी ने कदम बढ़ाया है, सभी को सरल ऐप डाउनलोड करने और उसमें सारी जानकारी इकट्ठा करने के निर्देश दिए गए।  बीजेपी की कोशिश है कि पूरे प्रदेश में उनके कार्यकर्ताओं की क्या संख्या है वह कितना पढ़े लिखे हैं क्या उनका प्रोफेशन है और कब से वह पार्टी से जुड़े हैं, यह सारा डेटा अब एकजगह उपलब्ध रहेगा। 

बीजेपी की कोशिश का नहीं होगा कोई फायदा – सपा
उधर, बीजेपी अपनी तैयारियों को लेकर कमर कसे हुए है जबकि सपा उसपर कटाक्ष के मौके नहीं छोड़ रही, सपा ने कहा कि बीजेपी कोई भी फॉर्मूला तैयार कर ले अब इनकी कोशिश का कोई फायदा नहीं होने वाला, 2022 में सपा 47 से 125 हो गई और ऐसा ही कुछ लोकसभा के चुनाव में भी होगा क्योंकि अब समय दूर नहीं है, झूठे विज्ञापनों और बढ़ती बेरोजगारी से सब लोग परेशान हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed