मथुरा में शून्य के करीब पहुंचा पारा, ठंड से प्रदेशभर में 62 लोगों की मौत

लखनऊ। कड़ाके की ठंड और हाड़ कंपा देने वाली सर्द हवाओं के कारण सोमवार को कई जिलों में पारा जमाव बिंदु के करीब पहुंच गया। दिनभर कोहरा छाया रहा और लोग सूरज देखने के लिए तरस गए। सहारनपुर और मुजफ्फरनगर में न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मथुरा में न्यूनतम तापमान .05 डिग्री सेल्सियस रहा। ठंड की चपेट में आकर 62 लोगों की मौत हो गई।

कोहरा भी जानलेवा बना

घने कोहरे के कारण नोएडा में नहर में कार गिरने से उसमें सवार छह लोगों की मौत हो गई। बदायूं में हादसे में ट्रक चालक की मौत हो गई। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अगले 24 घंटों में बादल व कोहरा अधिक छाने के अलावा शीतलहर व ठंड में तेजी आने और कहीं-कहीं बारिश होने की संभावना है। लंबी दूरी की ट्रेनों की लेट लतीफी और बढ़ गई। कई ट्रेनों को निरस्त करना पड़ा है। मुजफ्फरनगर में शीतलहर व कोहरे का प्रकोप जारी है। सोमवार अब तक का सबसे ठंडा दिन रहा। न्यूनतम तापमान 1.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सहारनपुर में दोपहर बाद धूप निकली जरूर लेकिन बेअसर साबित हुई। तापमान शून्य डिग्री के करीब पहुंचता जा रहा है। यहां न्यूनतम एक डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मेरठ में न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस रहा। कोहरे के कारण ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे पर चार वाहन आपस में टकराए, जिसमें सवार लोग मामूली रूप से घायल हुए। बदायूं में घने कोहरे के चलते दिल्ली हाईवे पर हादसे में ट्रक चालक की मौत हो गई, जबकि दो घायल हो गए। रामपुर, अमरोहा में चार और मुरादाबाद में दो लोगों की मौत हो गई।

अलीगढ़ में न्यूनतम 2.8 डिग्र्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। हाथरस में ठंड से पांच लोगों की मौत हो गई। मथुरा में न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यहां ठंड से तीन और एटा में तीन लोगों की मौत हो गई। आगरा में न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री सेल्सियस रहा। प्रयागराज में न्यूनतम तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अलग-अलग स्थानों पर छह लोगों की जान ठंड लगने से चली गई। प्रतापगढ़ में ठंड से दो और कौशांबी में दो की मौत हो गई।

वाराणसी में 57 वर्षों का रिकार्ड तोड़ते हुए न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। सोनभद्र में पारा एक डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं ठंड के प्रकोप से वाराणसी, चंदौली व भदोही में चार-चार, जौनपुर व मऊ में दो- दो तथा सोनभद्र व गाजीपुर में एक – एक लोगों की मौत हो गई। कानपुर, उन्नाव, कानपुर देहात और कन्नौज में न्यूनतम पारा 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कानपुर में ठंड से 16 लोगों ने दम तोड़ दिया, जबकि आसपास और बुंदेलखंड के इलाकों में तीन मौत की सूचना है। अयोध्या, अंबेडकरनगर, सुलतानपुर व लखीमपुर में न्यूनतम तापमान 2 डिग्री तक पहुंच गया। गोंडा में 2.4 डिग्री सेल्सियस रहा। ठंड से सुलतानपुर में दो की मौत हो गई। रायबरेली में एक, बहराइच में एक व्यक्ति की मौत हो गई।

ठंड ने उड़ाई विमानों की ‘हवाइयां’

मौसम के तीखे तेवर ने पूरी यातायात व्यवस्था को डिरेल कर दिया है। ठंड और कोहरे ने खासकर यात्री विमानों की हवाइयां उड़ा रखी हैैं। सोमवार को दिल्ली एयरपोर्ट पर खराब मौसम के कारण आठ विमान लखनऊ डायवर्ट करने पड़े। जबकि दिल्ली से आने वाले दो विमान निरस्त रहे। लखनऊ से भी दो विमान रवाना नहीं हो सके। ट्रेनों की रफ्तार में पहले ही कोहरे की बेडिय़ां पड़ी हुई है। शाम को जिस विमान से कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा को दिल्ली जाना था, वह भी निरस्त रहा। आखिर में वे सड़क मार्ग से रवाना हुईं। जम्मू होकर श्रीनगर जाने वाला विमान भी लखनऊ से उड़ान भरकर सीधे श्रीनगर पहुंचा। लखनऊ में उतरने वाले विमानों के हालात भी कुछ ठीक नहीं रहे। 

बदली और बूंदों संग बजेगा 20 का बिगुल

नए साल का स्वागत बारिश के साथ होने की संभावना है। मौसम का यह मास्टर स्ट्रोक होगा। एक-दो जनवरी को बारिश के बाद अगले दो-तीन दिन कोहरे का कहर मुश्किलें खड़ी करेगा। इसके बाद ही कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को सुबह कोहरा रहेगा और दिन चढऩे के साथ मौसम साफ होगा। बुधवार को बदली के साथ कुछ स्थानों पर बारिश की संभावना है। गुरुवार को प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में गरज-चमक के साथ बारिश की उम्मीद है। कुछ स्थानों पर ओले भी पड़ सकते हैं। चार जनवरी से कोहरा कहर बरपाएगा। पांच-छह जनवरी तक स्थितियां यूं ही रहेंगी इसके बाद मौसम सुधरने की उम्मीद है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *