सत्ता की सेवा बदलने वाले मोदी की देश को जरूरत: स्मृति ईरानी

वाराणसी। केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि गरीब परिवार में जन्मा व्यक्ति जो अपने पुरुषार्थ से मुख्यमंत्री और फिर प्रधानमंत्री बना, ऐसे व्यक्तित्व के मालिक नरेंद्र भाई मोदी को जनता पुन: आशीर्वाद देने को तत्पर है। कांग्रेस के अहंकारी नेताओं ने जिनका चायवाला कहकर मजाक उड़ाया, उस व्यक्ति को देश की जनता ने प्रधानमंत्री बनाया। पिछले पांच वर्षों में नरेंद्र मोदी ने असंख्य गरीबों का आशीर्वाद पाया है। इससे कांग्रेस पार्टी का कोई षड्यंत्र सफल नहीं हो सकता। सत्ता को सेवा में बदलने वाले मोदी की देश को दरकार है। वह शुक्रवार को वाराणसी के रामनगर, मऊ और बलिया में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभाएं कर रही थीं। मऊ के जीवनराम छात्रावास के मैदान में पार्टी प्रत्याशी हरिनारायण राजभर के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए ईरानी ने कहा कि कांग्रेस की तड़पन इतनी बढ़ गई है कि साले साहब के साथ अब जीजाजी भी इंटरव्यू देने लगे हैं।

जो लोग यूरोप टूर घूमते थे वे अब भीषण गर्मी में धूल फांक रहे हैं। मां गंगा का आशीर्वाद ले रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने देश जी सत्ता को भोग विलास का साधन बना दिया था। नरेंद्र मोदी ने उस परिपाटी को बदला और खुद को प्रधानसेवक की तरह पेश किया। आज मऊ की धरती को निर्णय करना है कि यह धरती विकास को चुनेगी या दुष्कर्म के आरोपित अपराधी को। पूर्व जिलाध्यक्ष सुशील राय को याद करते हुए उन्होंने कहा कि यह चुनाव मात्र सांसद का चुनाव का चुनाव नहीं, यह यहां के स्थानीय लोगों के सम्मान का चुनाव होगा और यही हमारी दिवंगत जिलाध्यक्ष सुशील राय के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। सलेमपुर लोकसभा क्षेत्र के बिल्थरारोड स्थित जीएमएएम इंटर कालेज के खेल मैदान में आयोजित पार्टी की जनसभा में भाजपा प्रत्याशी रविंद्र कुशवाहा के समर्थन में हुंकार भरते हुए स्मृति ने बिना नाम लिए कांग्रेस अध्यक्ष एवं महागठबंधन की नेता मायावती व अखिलेश यादव पर जमकर राजनीतिक तंज कसा। कहा कि इनकी राजनीति इतनी ओंछी हो गई है कि गरीब परिवार का बेटा जब पीएम होता है तो इनके कलेजे में इतनी जलन होती है कि मासूम बच्चों से भी पीएम को भद्दी-भद्दी गालियां दिलवाने लगते हैं।

स्मृति ने कहा कि बंगाल में जय श्रीराम का नारा सुनने पर निर्दोष हिंदुस्तानी को जेल में डाल देते हैं। इनका देश के विकास से कोई लेना देना नहीं है। सपा पर तंज कसते हुए कहा कि एक ऐसे देशद्रोही को टिकट दिया था जिसने पचास करोड़ में प्रधानमंत्री को ही जान से मारने के लिए साजिश रच ली। उन्हें नहीं पता कि जिसके सर पर काशी का आशीर्वाद हो उसका कोई बाल बांका नहीं कर सकता है।

वाराणसी के रामनगर में स्मृति ईरानी ने नुक्कड़ सभा के माध्यम से लोगों को 19 मई को अधिक से अधिक संख्या में घर से बाहर निकल भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि आज राजनीति में बहुत कुछ बोलने वाले कुछ लोग 23 मई को छूट्टी पर इटली चले जाएंगे । उन्होंने कहा कि ये लोग पांच साल में एक बार जनेऊ धारण करते हैं। ये लोग मोदी के डर से अयोध्या तो जाते है, लेकिन रामलला को शीश नहीं झुकाते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अमेठी में हार की डर से वायनाड चले गए। काशी की जनता के आशीर्वाद से ही भारतीय सेना ने पाकिस्तान में घुसकर हमला किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *