खीरी व झांसी में सर्वाधिक वोटिंग, प्रदेश में 57.58% मतदान

लखनऊ। सत्रहवीं लोकसभा चुनाव 2019 के चौथे चरण में सोमवार को प्रदेश के 18 जिलों के 13 संसदीय क्षेत्रों में 57.58 प्रतिशत मतदान हुआ। जिन 13 संसदीय क्षेत्रों में वोट डाले गए, उनमें शाहजहांपुर, खीरी, हरदोई, मिश्रिख, उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा, कन्नौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन, झांसी और हमीरपुर शामिल हैं। वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में इन संसदीय क्षेत्रों में 58.39 प्रतिशत मतदान हुआ था। मतदान खत्म होने के साथ ही इस चरण के 152 प्रत्याशियों का भाग्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कैद हो गया।

पहले तीन चरणों से भी कम मतदान

चौथे चरण में पहले के तीन चरणों की तुलना में कम मतदान हुआ। पहले चरण में जहां 63.88 प्रतिशत मतदान हुआ था, वहीं दूसरे व तीसरे चरण में क्रमश: 62.39 व 61.42 प्रतिशत वोट डाले गए थे।

पिछले चुनाव की तुलना में कम वोट पड़े

मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया कि चौथे चरण में सबसे ज्यादा 63 प्रतिशत मतदान खीरी व झांसी संसदीय क्षेत्रों में हुआ। हालांकि पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में इन दोनों क्षेत्रों में कम वोट पड़े। चौथे चरण में सबसे कम 50.87 प्रतिशत मतदान शाहजहांपुर में हुआ। पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में इस बार मतदान में सबसे ज्यादा गिरावट शाहजहांपुर संसदीय क्षेत्र में दर्ज की गई। यहां 2014 में 57.03 प्रतिशत वोटिंग हुई थी। 

शाहजहांपुर में वीवीपैट में खराबी के कारण मतदान बाधित

शाहजहांपुर संसदीय क्षेत्र में बड़ी संख्या में वीवीपैट मशीनें खराब हुईं जिसकी वजह से संबंधित बूथों पर मतदान बाधित हुआ। कई बूथों पर खराब वीवीपैट मशीनों को बदलने में दो घंटे से ज्यादा समय लगा। शाहजहांपुर में मतदान में आई गिरावट को इससे जोड़कर देखा जा रहा है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि वीवीपैट की खराबी के कारण जहां मतदान बाधित हुआ, उन बूथों के बारे में मंगलवार को निर्वाचन आयोग के प्रेक्षक, संबंधित मंडलायुक्त और जिलाधिकारी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ स्थिति की समीक्षा करेंगे। जिन बूथों पर खराब वीवीपैट मशीन को बदलने में दो घंटे से ज्यादा समय लगा, औचित्य पाये जाने पर उनमें पुनर्मतदान की सिफारिश की जा सकती है।

कई जगहों पर चुनाव बहिष्कार

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चौथे चरण के दौरान उन्नाव, हरदोई, झांसी, हमीरपुर, ललितपुर, कन्नौज, कानपुर देहात, फर्रुखाबाद, खीरी में कई बूथों पर चुनाव के बहिष्कार की सूचनाएं मिली हैं। इन स्थानों पर मतदाताओं ने नागरिक सुविधाओं के अभाव में वोट डालने से परहेज किया।

हरदोई में हटाये गए पीठासीन अधिकारी

हरदोई के संडीला क्षेत्र के जनपुरा में बूथ संख्या 152 पर लोगों ने मतदान कर्मियों द्वारा किसी बुजुर्ग महिला का वोट डालने की शिकायत की। इस पर बूथ के पीठासीन अधिकारी को हटाया गया।

कन्नौज में सपा समर्थकों के उत्पीड़न की शिकायत पर मांगी रिपोर्ट

समाजवादी पार्टी ने पुलिस-प्रशासन पर आरोप लगाया है कि वह कन्नौज में सपा समर्थक मतदाताओं को वोट डालने से रोक रहा है। सपा समर्थक ब्लॉक प्रमुखों, बीडीसी सदस्यों, ग्राम प्रधानों का उत्पीड़न भी किया जा रहा है। इस बाबत पूछने पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सपा की ओर से दर्ज करायी गई शिकायत का संज्ञान लिया गया हैै। इस बारे में प्रमुख सचिव गृह, जिलाधिकारी और पुलिस से रिपोर्ट मांगी गई है। 

चौथे चरण में कहां-कितने वोट पड़े

सीट            वर्ष 2019     वर्ष 2014 
शाहजहांपुर      50.87        57.03
खीरी              63.00        64.24
हरदोई            57.49        56.72
मिश्रिख          56.2          57.87
उन्नाव           59.33        55.47
फर्रुखाबाद       59.37       60.30
इटावा             56.46       55.03
कन्नौज          59.48       61.68
कानपुर           51.09       51.83
अकबरपुर        55.8         54.90
जालौन           56.58        58.83
झांसी             63.00        68.30
हमीरपुर          60.91        56.30

पीठासीन अधिकारी शमीउद्दीन को हिरासत में 

मिश्रिख लोकसभा के संडीला विधानसभा में ग्राम जमकुरा बूथ संख्या 192 के पीठासीन अधिकारी पर महिलाओं ने गलत वोटिंग कराने का आरोप लगाया। इस पर ताबड़तोड़ पुलिस ने एक्शन लेते हुए पीठासीन अधिकारी शमीउद्दीन को हिरासत में ले लिया। वहीं, पीठासीन अधिकारी खुद पर लगे आरोपों को सिरे से खारिज करता रहा।

3 से 5 बजे के बीच मतदान 

शाम पांच बजे तक सर्वाधिक 60.14 प्रतिशत मतदान लखीमपुर खीरी में हुआ। तीन से पांच बजे के बीच दो घंटा में सबसे कम मतदान 45.12 प्रतिशत शाहजहांपुर में हुआ। शाहजहांपुर में 45.12, लखीमपुर खीरी में 60.14, हरदोई में 54.80, मिश्रिख में 51.50, उन्नाव में 53.40, फर्रुखाबाद में 53.83, इटावा में 53.72, कन्नौज में 55.22, कानपुर में 48.37, अकबरपुर में 51.40, जालौन में 53.55, झांसी में 56.54 व हमीरपुर में 56.00 प्रतिशत मतदान हो गया था।

1 से 3 बजे के बीच मतदान

दोपहर तीन बजे तक झांसी में सर्वाधिक 49.18 व लखीमपुर खीरी में 49.07 प्रतिशत मतदान हुआ था। शाहजहांपुर में सबसे कम 38.31 प्रतिशत मतदान हुआ है। शाहजहांपुर में 45.12, लखीमपुर खीरी में 60.14, हरदोई में 54.80, मिश्रिख में 51.50, उन्नाव में 53.40, फर्रुखाबाद में 53.83, इटावा में 53.72, कन्नौज में 55.22, कानपुर में 48.37, अकबरपुर में 51.40, जालौन में 53.55, झांसी में 56.54 व हमीरपुर में 56.00 प्रतिशत मतदान हो गया था।

एक से तीन बजे के बीच में मतदान

शाहजहांपुर में 38.31, लखीमपुर खीरी में 49.07, हरदोई में 42.80, मिश्रिख में 41.80, उन्नाव में 42.58, फर्रुखाबाद में 45.76, इटावा में 43.80, कन्नौज में 44.83, कानपुर में 40.16, अकबरपुर में 43.76, जालौन में 42.94, झांसी में 49.18 व हमीरपुर में 47.25 प्रतिशत मतदान हो गया था।पहले दो घंटा यानी सात से नौ बजे के बीच मतदान धीमा था। गरमी बढ़ते ही वोटर उमड़ पड़े। सात से नौ बजे के बीच जहां 9.50 प्रतिशत मतदान हुआ था वो नौ से 11 बजे के बीच 21.50 हो गया। सुबह बड़ी संख्या में ईवीएम में खराबी के बाद उनको बदला गया। अब मतदान जोर पकड़ रहा है। दिन में 11 से एक बजे के बीच 13 लोकसभा क्षेत्रों में सर्वाधिक 39.06 प्रतिशत वोट लखीमपुर खीरी में डाला गया। इस दो घंटा में सबसे कम मतदान 32.40 प्रतिशत मिश्रिख में हुआ था।

11 से एक बजे के बीच में मतदान

शाहजहांपुर में 33.78, लखीमपुर खीरी में 30.06, हरदोई में 32.60, मिश्रिख में 32.40, उन्नाव में 33.00, फर्रुखाबाद में 33.40, इटावा में 33.60, कन्नौज में 33.34, कानपुर में 34.38, अकबरपुर में 33.00, जालौन में 33.94, झांसी में 33.80 व हमीरपुर में 37.36 प्रतिशत मतदान हो गया था। क्षेत्र के गांव गोरा बकैनिया निवासी बालक राम की पत्नी सुशीला ने बताया कि उसकी सास जग देवी की आंखों की रोशनी कम है। इस वजह से उसकी देवरानी रेखा हाथ पकड़कर सास को वोट डलवाने गई थी। इस बात पर मतदान केंद्र पर मौजूद शूरवीर सिंह ने विरोध कर दिया जिस पर विवाद बढ़ गया। मतदान केंद्र से आने के बाद गांव में जब अपने घर के दरवाजे पर जा रही थी। तभी पीछे से शूरवीर सिंह कुछ लोगों के साथ तमंचा व कुल्हाड़ी लेकर आ गया और उन लोगों पर हमला कर दिया। आरोप है उसने तमंचे से फायरिंग की, एक गोली उसकी हथेली से रगड़ती हुई निकल गई, जिससे वह घायल हो गई। उसका भतीजा अजीत भी घायल हुआ है। वहीं शूरवीर सिंह ने बताया कि उसका बालकराम के परिवार से पुराना झगड़ा चल रहा था। जिसकी वजह से विवाद हो गया। दूसरे पक्ष के लोगों ने डंडा मारकर उसका सिर फोड़ दिया।

गांव में गोली चलने की सूचना पर पुलिस प्रशासन.में खलबली मच गया। सीओ ने बताया कि दोनों पक्षों में पुराना विवाद चल रहा था। जिसको लेकर झगड़ा हुआ है। इसका चुनाव से कोई लेना देना नहीं है। दोनों पक्षों की ओर से तहरीर प्राप्त हो गई है। अभी कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। गांव में क्यूआरटी तैनात की जा रही है। घटना के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। पीठासीन अधिकारी अवनीश कुमार ने बताया कि दोपहर 12 बजकर 10 मिनट तक 1053 में से 257 वोट डाले जा चुके थे।

नौ से 11 बजे के बीच में मतदान

शाहजहांपुर में 21.83, लखीमपुर खीरी में 23.50, हरदोई में 22.10, मिश्रिख में 21.40, उन्नाव में 21.83, फर्रुखाबाद में 21.71, इटावा में 18.06, कन्नौज में 18.34, कानपुर में 19.70, अकबरपुर में 19.50, जालौन में 10.06, झांसी में 25.00 व हमीरपुर में 22.62 प्रतिशत मतदान हो गया था। पहले दो घंटा यानी सात से नौ बजे से बीच 13 सीटों पर 9.59 प्रतिशत मतदान हुआ । सबसे अधिक मतदान लखीमपुर खीरी में 11.70 प्रतिशत तथा सबसे कम 7.80 प्रतिशत जालौन में हुआ । 

सुबह सात से नौ बजे के बीच मतदान

शाहजहांपुर में 11.12, लखीमपुर खीरी में 11.70, हरदोई में 9.30, मिश्रिख में 8.70, उन्नाव में 10.67, फर्रुखाबाद 11.43, इटावा में 7.85, कन्नौज में 8.48, कानपुर में 8.10, अकबरपुर में 8.40, जालौन में 7.80, झांसी में 10.20 व हमीरपुर में 10.40 प्रतिशत मतदान हो गया था। चौथे चरण में आज शाहजहांपुर (अनुसूचित जाति), खीरी, हरदोई (अनुसूचित जाति), मिश्रिख (अनुसूचित जाति), उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा (अनुसूचित जाति), कन्नौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन (अनुसूचित जाति), झांसी व हमीरपुर संसदीय क्षेत्रों में चुनाव होगा। मतदान सुबह सात से शाम छह बजे तक होगा। चौथे चरण में 2.41 करोड़ मतदाता 152 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। 2014 के लोकसभा चुनावों में कन्नौज को छोड़ इस चरण की सभी 12 सीटें भाजपा के खाते में गई थीं। भाजपा ने चौथे इस चरण के 12 में से पांच सांसदों का टिकट काट दिया है।

कन्नौज में 17 बूथों पर ईवीएम खराब

इत्रनगरी कन्नौज में लोकसभा के मतदान में ईवीएम खराब होने से कई केंद्रों पर मतदान रुक गया है। कन्नौज लोकसभा के छिबरामऊ विधानसभा में नौ बूथ, बिधूना विधानसभा में पांच बूथ सदर विधानसभा में दो और तिर्वा विधानसभा में एक बूथ पर ईवीएम खराब हो गई है। जिससे मतदान करीब आधा घंटा से बाधित है। कन्नौज में बूथ संख्या 444 पर ईवीएम मशीन खराब होने  से मतदान रुका गया है। वहां मौके पर सेक्टर मजिस्ट्रेट पहुंचे गए हैं। मामला गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के मझपुरवा का है।झांसी में छह बूथों पर तथा हमीरपुर में चार बूथ पर ईवीएम खराब होने से मतदान कार्य बाधित है। 

कानपुर, उन्नाव और कन्नौज में ईवीएम खराब 

कानपुर और आसपास की 8 सीटों पर सुबह 7:00 बजे मतदान शुरू हो गया। कानपुर, उन्नाव और कन्नौज क्षेत्रों में ईवीएम की खराबी की सूचनाएं हैं। कन्नौज की ठठिया में लंबी लाइन लगी हुई है और मतदान रुका हुआ है। फर्रुखाबाद कम्पिल के केएसआर इण्टर कालेज के 5 बूथों में सिर्फ 64 न. बूथ की ईवीएम ही सही। बाकी 4 बूथों की मशीन खराब। उन्नाव के पुरवा में वोट पड़ने के बाद बताया इंजीनियर ईवीएम सही करने में लगे हैं। फिलहाल कई केंद्रों पर मतदान रुका हुआ है।सीतापुर में धौरहरा के साथ सीतापुर व मिश्रिख लोकसभा क्षेत्र के लिए वोट डाला जा रहा है। औरंगाबाद में बने बूथ पर मतदाताओं की कतार लगने लगी है। मतदान को लेकर क्षेत्र में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। हरदोई में 28 लाख 60 हजार 172 मतदाता लोकतंत्र के यज्ञ में आहुति डालेंगे। हरदोई सुरक्षित लोक क्षेत्र में 11 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 18 लाख 6 हजार 107 मतदाता करेंगे। यहां पर मिश्रिख लोकसभा क्षेत्र के लिए भी मतदान होगा। मिश्रिख में 13 उम्मीदवारों की किस्मत का 17 लाख 79 हजार 625 मतदाता कर्रेंगे निर्णय। मॉक पोल 6 बजकर 30 मिनट पर शुरू हुआ मतदान। हरदोई जिले में 3431 मतदान केंद्र हैं।

दांव पर नामचीन राजनीतिक दिग्गजों की साख 

चौथे चरण में प्रदेश में नामचीन राजनीतिक दिग्गजों की साख दांव पर है। उनमें कानपुर में पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल व राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी, उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज व पूर्व सांसद कांग्रेस की अनु टंडन कन्नौज से समाजवादी पार्टी की सांसद डिंपल यादव, फर्रुखाबाद से पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, धौरहरा से पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद और इटावा से पूर्व केंद्रीय मंत्री रामशंकर कठेरिया चुनाव मैदान में हैं। बुदंलेखंड में जहां सालभर स्थानीय मुद्दे हावी रहते हैं लेकिन चुनाव के वक्त राष्ट्रीय मुद्दे स्थानीय मुद्दों पर भारी दिख रहे हैं। जातीय ध्रवीकरण की राजनीति भी जम कर हो रही है। ऐसे में किसी भी सीट पर किसी पार्टी की एकतरफा जीत नहीं दिख रही है। 

जालौन में सबसे कम और खीरी में सर्वाधिक प्रत्याशी

चौथे चरण में खीरी संसदीय क्षेत्र में सर्वाधिक 15 और जालौन में सबसे कम पांच उम्मीदवार हैं। महिला प्रत्याशियों की संख्या 18 है। इस चरण में सर्वाधिक 13 प्रत्याशी भाजपा के हैं। कांग्रेस के 12, बसपा के छह, सपा के सात, सीपीआइ के दो उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। शेष अन्य निर्दल हैं।

डिजिटल निगरानी पर खास जोर

निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव के लिए डिजिटल निगरानी पर खास जोर है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया कि स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए तैयारियां पूरी हैं। मतदेय स्थलों पर होने वाले मतदान की निगरानी के लिए 2829 डिजिटल कैमरे, 1027 वीडियो कैमरे लगाए गए हैं। 2824 पोलिंग बूथों की वेब कास्टिंग कराई जाएगी।

चप्पे-चप्पे पर होगी सुरक्षा

डिजिटल निगरानी के साथ ही 18 जिलों में फैले इन संसदीय क्षेत्रों में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के इंतजाम किये गए हैं। इसके लिए 3459 माइक्रो ऑब्जर्वर, 2298 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 293 जोनल और 308 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। 67 सहायक व्यय प्रेक्षकों सहित 13 सामान्य, सात पुलिस और 13 व्यय प्रेक्षक भी तैनात हैं। निष्पक्ष और सकुशल मतदान संपन्न कराने के लिए 118578 मतदान कर्मियों को लगाया गया है। पर्याप्त संख्या में अद्र्धसैनिक बल और पीएसी के जवान भी तैनात किये गए हैं। अधिक से अधिक मतदान हो इसके लिए हर केंद्र पर बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं।

कहां कितने प्रत्याशी

शाहजहांपुर -14, खीरी-15, हरदोई-11, मिश्रिख-13, उन्नाव-नौ, फर्रूखाबाद-नौ, इटावा-13,कन्नौज-10, कानपुर-14, अकबरपुर-14, जालौन-पांच, झांसी-11, और हमीरपुर 14।

चौथे चरण का चुनाव एक नजर

चौथे चरण में सर्वाधिक 2188558 मतदाता उन्नाव और सबसे कम 1631296 कानपुर में हैं।

कुल मतदाता- 24107084

पुरुष -13083421

महिला-11022629

ट्रांस जेंडर-1034

पोलिंग केंद्र-17011

मतदेय स्थल-27516

अति संवेदनशील मतदेय स्थल-4014

निघासन विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव आज

लखीमपुर खीरी के निघासन विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव भी आज होगा। उपचुनाव में सुबह सात से शाम छह बजे तक मतदान होगा। यहां से कुल सात उम्मीदवार मैदान में हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 335987 है। इसमें से 181622 पुरुष, 154365 महिला मतदाता है। मतदान के लिए 179 केंद्र और 369 मतदेय स्थल बनाये गए हैं। उल्लेखनीय है कि यह सीट सितंबर में भाजपा विधायक पटेल रामकुमार वर्मा के निधन के बाद खाली हो गई थी।

By-Agency








Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *