महागठबंधन की रैली में सांड, मायावती ने भाजपा पर लगाया गंभीर आरोप

जालौन। लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा के खिलाफ गठबंधन तैयार करने में अहम भूमिका अदा करने वाली बसपा की मुखिया मायावती के साथ सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भाजपा पर बड़ा आरोप जड़ा है। बसपा मुखिया मायावती के साथ अखिलेश यादव आज जालौन लोकसभा क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी के बस्ती से गठबंधन के प्रत्याशी पंकज सिंह के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। जालौन के उरई में मायावती ने कहा कि भाजपा अब बहुत निचले स्तर पर उतर आई है। सपा-बसपा-रालोद के गठबंधन से घबराकर भाजपा अब हमको प्रचार करने से भी रोकने में लगी है। कन्नौज में हेलीपैड पर सांड को छोड़ा गया। कुछ ऐसा ही कारनामा हरदोई में भी किया गया।
अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बाबा सीएम को समझ में नहीं आ रहा है कि क्या बोलें। इन्होंने तो जानवरों के नाम पर भी वोट ले लिए। हरदोई में हेलीकाप्टर के पास सांड मिलने आ गया, कन्नौज में भी पीछा नहीं छोड़ा। जानवरों को दुख पहुंचाया। उन्होंने वादा कि हमारी सरकार बनते ही अन्ना पशुओं के लिए रहने और खाने का इंतजाम किया जाएगा। किसानों की खेती बचेगी। हमने जनता को जो भी दिया, उसे इस सरकार ने छीन लिया। बाबा सीएम खुद लैपटाप नहीं चला पाते हैं, तो युवा को क्या देंगे। सभा के जरिए गठबंधन के प्रत्याशियों को जिताने की अपील की गई।
कड़ाके की धूप में गठबंधन के शीर्ष नेतृत्व को सुनने के लिए लोग जुटे थे। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा प्रदेश में अभी तक तीन चरणों के चुनाव हो चुके हैं। हर जगह से गठबंधन के पक्ष में अच्छी रिपोर्ट आ रही है। यह तो तह है कि बुंदेलखंड में भी गठबंधन आगे रहेगा। सपा-बसपा के प्रत्याशियों की मजबूती ने भाजपा व आरएसएस की नींद उड़ा दी है। अब यह लोग खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे जैसे काम करने लगे हैं। हमारे प्रत्याशियों और प्रमुख नेताओं के खिलाफ अनर्गल प्रचार व बयानबाजी करने लगे हैं। उन्होंने कहा कि इस बार गठबंधन के ही प्रत्याशियों को अपना एक-एक वोट ट्रांसर्फर करना है। हर सीट जीतनी जरूरी है, तभी दिल्ली में सरकार बनेगी। बुंदेलखंड में सपा-बसपा ने ही अपने शासन में सबसे ज्यादा काम किए, जबकि केन्द्र से समर्थन नहीं मिला।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा बुंदेलखंड में भी भाजपा का सफाया होना तय है। यहां की खासियत है कि जिसने अपना वादा पूरा नहीं किया, तो यहां के लोग वोट से हिसाब-किताब लेना जानते हैं। गठबंधन की ताकत देख बीजेपी की भाषा बदल गई है। अब उनको समझ में नहीं आ रहा है कि गठबंधन का कैसे मुकाबला किया जाए। हमें मिलावटी कहते हैं, लेकिन हम महामिलावट वाले नहीं हैं। हम देश में महापरिवर्तन करेंगे, नई सरकार देंगे। बीजेपी कहती है कि नया देश बनाएंगे, जबकि नया देश तभी बनेगा, जब नया पीएम बनेगा, हम नया देश बनाने जा रहे हैं।

उन्होंने 2014 में भाजपा के वायदे याद दिलाते हुए कहा कि किसानों का दोगुनी आय, उपज का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य, हर खेत को पानी देने वाले बताएं कि पांच साल में क्या किया। झांसी में हिसाब किताब नहीं किया, अब फिर पानी देने का वायदा कर रहे हैं। अखिलेश के भाषण में मोदी ही निशाने पर रहे। फेंकू और जुमलेबाज पार्टी करार देते हुए कहा कि पांच साल बाद आज भी यह दौर जारी है। यह भाजपा नहीं भागती जनता पार्टी है। भयंकर जुमला पार्टी है। पिछली बार चाय में जाने क्या नशा था कि लोग बहक गए। अब चाय के बाद चौकीदार बनकर आए हैं। इस बार जनता चौकी छीनने को तैयार है।

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जन्मजात पिछड़ा न बताकर अपनी सरकार के दौरान अपनी जाति को उस वर्ग में शामिल करने का आरोप लगाया। बसपा सुप्रीमो मयावती ने कहा कि खुद को पिछ़ड़़ा बताकर इस वर्ग को धोखा देने का काम किया गया है। मोदी ने पिछड़ों का हक मारा है। पिछड़ों के असली मसीहा मुलायम सिंह और अखिलेश यादव ही हैं। कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस ने अपने शासन में सही काम किया होता तो किसी को दूसरे दल बनाने की जरूरत ही नहीं पड़ती। सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि बुंदेरखंड वीरों की धरती है। अब यहां के लोगों ने तय कर लिया है कि भाजपा का सफाया करना है। धोखा देने वालों को यहां की धरती जवाब देती है। इस बार वोट की चोट से जनता जवाब देगी।

मायावती के साथ अखिलेश यादव ने जालौन के मुख्यालय उरई के मैकेनिक नगर के मैदान में झांसी से सपा प्रत्याशी श्याम सुंदर यादव, हमीरपुर से बसपा प्रत्याशी दिलीप सिंह और जालौन-गरौठा से अजय सिंह पंकज के समर्थन में चुनावी जनसभा की। 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *