निरस्त रहेंगी सात ट्रेनें तीन फरवरी से देखें कौन सा रूट होगा प्रभावित

गोरखपुर। मालगाडिय़ों को पास कराने के लिए तीन फरवरी को पूर्वोत्तर रेलवे के विभिन्न रूटों पर सात सवारी गाडिय़ां निरस्त रहेंगी। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार फ्रेट कन्वो प्लान के तहत पनियहवा प्वाइंट पर सुबह पांच से आठ बजे तक तथा गोरखपुर अप डायरेक्शन में सुबह सात से दस बजे तक कुछ ट्रेनों का संचलन प्रभावित रहेगा। इसके अलावा पूर्व मध्य रेलवे के सहरसा स्टेशन पर नान इंटरलांकिंग के चलते विभिन्न तिथियों में कुछ ट्रेनें शार्ट टर्मिनेट होंगी तो दो एक्सप्रेस मार्ग बदलकर चलाई जाएंगी।

निरस्त रहने वाली पैसेंजर ट्रेनें

– 55001/55002 गोरखपुर-अयोध्या-गोरखपुर।

– 55055/55056 गोरखपुर-कप्तानगंज-गोरखपुर।

– 55077/55078 गोरखपुर-बढऩी-गोरखपुर।

– 55038 सीतापुर-बुढ़वल सवारी गाड़ी।

प्रभावित होने वाली अन्य ट्रेनें

– 55011 सिवान-गोरखपुर पैसेंजर सिवान से एक घंटे की देरी से चलेगी।

 55075 सिवान-गोरखपुर पैसेंजर कप्तानगंज में ही रुक जाएगी।

– 55076 गोरखपुर-सिवान पैसेंजर कप्तानगंज से चलेगी।

– 55033 गोंडा-सीतापुर पैसेंजर बुढ़वल में टर्मिनेट हो जाएगी।

रास्ते में रुककर चलने वाली ट्रेनें

– 30 जनवरी, दो व तीन फरवरी को अमृतसर से प्रस्थान करने वाली 12204 गरीब रथ बरौजी में टर्मिनेट होगी।

– तीन फरवरी को सहरसा से प्रस्थान करने वाली 15279 सहरसा-आनंदविहार बरौनी से चलेगी।

– एक फरवरी को सहरसा से प्रस्थान करने वाली 14603 सहरसा-अमृतसर एक्सप्रेस समस्तीपुर से बनकर चलेगी।

– तीन फरवरी को सहरसा से प्रस्थान करने वाली 15531 सहरसा-अमृतसर एक्सप्रेस बरौनी से बनकर चलेगी।

मार्ग बदलकर चलने वाली ट्रेनें

– 31 जनवरी को कटिहार से चलने वाली 15705 हमसफर एक्सप्रेस कटिहार-मानसी-खगडिय़ा के रास्ते चलेगी।

– एक फरवरी को दिल्ली से प्रस्थान करने वाली 15706 हमसफर एक्सप्रेस खगडिय़ा-मानसी-कटिहार के रास्ते चलेगी।

अब इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी गोरखपुर-देहरादून एक्सप्रेस

पूर्वोत्तर रेलवे की महत्वपूर्ण देहरादून एक्सप्रेस भी अब इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी। सीपीआरओ संजय यादव के अनुसार 15002 एक्सप्रेस दो फरवरी से देहरादून से तथा 15001 एक्सप्रेस चार फरवरी से गोरखपुर से इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी। 15006 एक्सप्रेस पांच फरवरी से देहरादून से तथा 15006 एक्सप्रेस छह फरवरी से गोरखपुर से इलेक्ट्रिक इंजन से चलेगी।

वेरी गुड बेंच मार्क के विरोध में उतरा पीआरएसएस

यांत्रिक कारखाना में वेरी गुड बेंच मार्क के विरोध को लेकर पूर्वोत्तर रेलवे श्रमिक संघ (पीआरएसएस) ने मोर्चा खोल दिया है। बुधवार को कारखाना गेट पर सभा कर संघ के पदाधिकारियों ने मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद की। संघ के प्रतिनिधि मंडल ने रेलवे प्रशासन को पांच सूत्री ज्ञापन भी सौंपा। इस मौके पर बजरंगी दूबे, अजीत सिंह, जेपी गुप्ता, सुरेंद्र कुमार यादव, कामेश्वर दूबे, आरएल दास, शंकर बसु व जनार्दन सिंह मौजूद थे।

वेतन को लेकर पीआरकेएस ने की कारखाना गेट पर सभा

वेतन निर्धारण सहित विभिन्न लंबित मांगों को लेकर पूर्वोत्तर रेलवे कर्मचारी संघ (पीआरकेएस) ने बुधवार को यांत्रिक कारखाना गेट पर सभा की। मंडल मंत्री आरपी भट्ट ने कहा कि 106 कर्मचारियों की 4200 ग्रेड पे में पदोन्नति हुई थी, लेकिन आज तक उनका वेतन निर्धारण नहीं हुआ है। पीएफ निकासी में लापरवाही बरती जा रही है। सभा को संघ के प्रवक्ता एके सिंह, मंडल अध्यक्ष डीके तिवारी व सहायक महामंत्री राम कृपाल शर्मा ने भी संबोधित किया।

मर्जर आदेश वापस होने पर कर्मचारी संगठनों में हर्ष

लखनऊ मंडल में टिकट चेकिंग स्टाफ की वरीयता, वाणिज्य लिपिक संवर्ग एवं ईसीआरसी संवर्ग की वरीयता के साथ मर्ज नहीं होने पर रेल कर्मचारी संगठनों में हर्ष है। नरमू के मंडल अध्यक्ष एसपी सिंह ने बताया कि महामंत्री केएल गुप्त के नेतृत्व में यूनियन ने मर्जर का पुरजोर विरोध किया था। पीआरकेएस के महामंत्री विनोद कुमार राय के अनुसार रेलवे बोर्ड तक इस मामले को उठाया गया था। आइआरटीसीएसओ ने भी आदेश वापस होने पर खुशी जाहिर की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *